Featured post

अकोला निवासी ९० वर्ष से अधिक आयु के डाॅ नानासाहब चौधरी जी के WhatsApp ग्रुप से प्राप्त संदेश।

कृपया अंत तक पढ़िए… —————————— ● जीवन मर्यादित है और उसका जब अंत होगा, तब इस लोक की कोई भी वस्तु साथ नही जाएगी ! ● फिर ऐसे में कंजूसी… Read more »

Featured post
Gayatri Yagya

” गृहे-गृहे गायत्री यज्ञ ” अभियान के तहत गायत्री यज्ञ सम्पन्न हुआ।

” गृहे-गृहे गायत्री यज्ञ ” अभियान के तहत गायत्री यज्ञ सम्पन्न हुआ।                                    विगत… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat31

Hariye Na Himmat- Day 31- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 31 आत्मविश्वास और अविरल अध्यवसाय संसार के सारे महापुरूष प्रारंभ में साधारण श्रेणी, योग्यता, क्षमताओं के व्यक्ति रहे हैं। इतना होने पर भी उन्होंने अपने प्रति दृष्टिकोण हीन… Read more »

Featured post
PanditShriRamSharmaAcharya

Kya hote hai Manav ko DevManav bana dene vale 16 Sanskaar?

मनुष्य को देवमानव गढ़ देने वाले विलक्षण षोडश संस्कार भारतीय मनीषियों ने हजारों वर्षों के अनुभव के पश्चात् यह निष्कर्ष निकाला था कि मनुष्य जीवन केवल खाने-पीने और मौज उड़ाने… Read more »

Featured post
NashaMuktCg

NashaMukt Chhattisgarh Kab Hoga?

छत्तीसगढ़ राज्य को नशामुक्त कैसे बनायें ? छत्तीसगढ़ भारत का ऐसा राज्य है जिसे ‘महतारी (माँ)‘ का दर्जा दिया गया है। 01नवम्बर, 2000 को मध्यप्रदेश अलग होने के पश्चात् भारत… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat30

Hariye Na Himmat- Day 30- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 30 धर्म का सार तत्व अस्त-व्यस्त जीवन जीना, जल्दबाजी करना, रात दिन व्यस्त रहना, हर पल, हर क्षण काम काज में ही ठूंसे रहना भी मनःक्षेत्र में भारी… Read more »

Featured post
HariyeNAHimmat29

Hariye Na Himmat- Day 29- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 29 दूसरों पर आश्रित न हो दूसरों से यह अपेक्षा करना कि सभी हमारे होंगे और हमारे कहे अनुसार चलेंगे, मानसिक तनाव बने रहने का, निरर्थक उलझनों में… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat28

Hariye Na Himmat- Day 28- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 28 विचार और कार्य संतुलित करो एक साथ बहुत सारे काम निबटाने के चक्कर में मनोयोग से कोई कार्य पूरा नहीं हो पाता। आधा-अधूरा कार्य छोड़कर मन दूसरे… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat27

Hariye Na Himmat- Day 27- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 27 संतोष भरा जीवन जीयेंगे समझदारी और विचारशीलता का तकाजा है कि संसार चक्र के बदलते क्रम के अनुरूप अपनी मनः स्थिति को तैयार रखा जाए। लाभ, सुख,… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat26

Hariye Na Himmat- Day 26- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 26 खिलाड़ी भावना अपनाओ आपके विषय में, आपकी योजनाओं के विषय में, आपके उद्देश्योें के विषय में अन्य लोग जो कुछ विचार करते हैं, उस पर अधिक ध्यान… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat25

Hariye Na Himmat- Day 25- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 25 आप अपने मित्र भी हो और शत्रु भी इस बात का शोक मत करो कि मुझे बार-बार असफल होना पड़ता है। परवाह मत करो क्योंकि समय अनन्त… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat24

Hariye Na Himmat- Day 24- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 24 आत्मविश्वास जागृत करो जब निराशा और असफलता को अपने चारों ओर मंथराते देखो तो समझो कि तुम्हारा चित्त स्थिर नहीं, तुम अपने ऊपर विश्वास नहीं करते।वर्तमान दशा… Read more »

Featured post

Hariye Na Himmat- Day 23- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 23 आत्मशक्ति पर विश्वास रखो क्या करें, परिस्थितियां हमारे अनुकूल नहीं है, कोई हमारी सहायता नहीं करता, कोई मौका नहीं मिलता आदि शिकायतें निरर्थक हैं। अपने दोषों को… Read more »

Featured post
Hariye Na Himmat Day 22

Hariye Na Himmat- Day 22- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 22 चिंतन और चरित्र का समन्वय अपने दोष दूसरों पर थोपने से कुछ काम न चलेगा। हमारी शारीरिक एवं मानसिक दुर्बलताओं के लिए दूसरे उत्तरदायी नहीं वरन हम… Read more »

Featured post
HariyeNa Himmat Day 20

Hariye Na Himmat- Day 20- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 20 भटकना मत  लोभों के झोंके, मोहों के झोंके, नामवरी के झोंके, यश के झोंके, दबाव के झोेंके ऐसे हैं कि आदमी को लंबी राह पर चलने के… Read more »

Featured post

Hariye Na Himmat- Day 19- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 19 पुरूषार्थ की शक्ति   सुधारवादी तत्वों की स्थिति और भी उपहासास्पद है। धर्म, अध्यात्म, समाज एवं राजनीतिक क्षेत्र में सुधार एवं उत्थान के नारे जोर-शोर से लगाए… Read more »

Featured post
Jai Shri Ram

Hariye Na Himmat- Day 18- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 18 पौरूष की पुकार साहस ने हमें पुकारा है। समय ने, युग ने, कर्तव्य ने, उत्तरदायित्व ने, विवेक ने, पौरूष ने हमें पुकारा है। यह पुकार अनसुनी न… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat17

Hariye Na Himmat- Day 17- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 17 बोलिए कम, करिये अधिक ‘‘ हमारी कोई सुनता नहीं, कहते कहते थक गए पर सुनने वाले कोई सुनते नहीं अर्थात् उन पर कुछ असर ही नहीं होता… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat16

Hariye Na Himmat- Day 16- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 16 सुख-दुखों के ऊपर स्वामितत्व तुम सुख,दुख की अधीनता छोड़ उनके ऊपर अपना स्वामित्व स्थापना करो और उसमें जो कुछ उत्तम मिले उसे लेकर अपने जीवन को नित्य… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat15

Hariye Na Himmat- Day 15- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 15 दुःखद स्मृतियों को भूलो जब मन में पुरानी दुखद स्मृतियां सजग हों तो उन्हें भुला देने में ही श्रेष्टता है। अप्रिय बातों को भुलाना आवश्यक है। भुलाना… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat14

Hariye Na Himmat- Day 14- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 14 असफलताओं का कारण हम दूसरों को बरबस अपनी तरह विश्वास, मत, स्वभाव एवं नियमों के अनुसार कार्य करने और जीवन व्यतीत करने के लिए बाध्य करते हैं।… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat13

Hariye Na Himmat- Day 13-Aaj Ka Vichar

दिनांक : 13 प्रेम एक महान शक्ति प्रेम ही एक ऐसी महान शक्ति है जो प्रत्येक दिशा में जीवन को आगे बढ़ाने में सहायक होती है। बिना प्रेम के किसी… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat12

Hariye Na Himmat- Day 12-Aaj Ka Vichar

दिनांक : 12 दूसरों पर निर्भर न रहो जिस दिन तुम्हें अपने हाथ-पैर और दिल पर भरोसा हो जावेगा, उसी दिन तुम्हारी अंतरात्मा कहेगी कि बाधाओं को कुचल कर तू… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat10

Hariye Na Himmat- Day 10- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 10 अंतःकरण के धन को ढूंढो तुम्हें अपने मन को सदा कार्य मेेें लगाए रखना होगा। इसे बेकार न रहने दो। जीवन को गंभीरता के साथ बिताओ। तुम्हारे… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat09

Hariye Na Himmat- Day 09- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 09 नम्रता, सरलता, साधुता, सहिश्णुता सहिष्णुता का अभ्यास करो। अपने उत्तर दायित्व को समझो। किसी के दोषों को देखने और उन पर टीका -टिप्पणी करने के पहले अपने… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat08

Hariye Na Himmat- Day 08- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 08 अपने आपकी समालोचना करो जो कुछ हो, होने दो। तुम्हारे बारे में जो कहा जाए उसे कहने दो। तुम्हें ये सब बातें मृगतृष्णा के जल के समान… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat07

Hariye Na Himmat- Day 07- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 07 मार्गदर्शन के लिए अपनी ही ओर देखो साक्षात्कार सम्पन्न पुरूष न तो दूसरों को दोष लगाता है और न अपने को अधिक शक्तिमान वस्तुओं से आच्छादित होने… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat06

Hariye Na Himmat- Day 06- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 06 आत्म समर्पण करो तुम्हें यह सीखना होगा कि इस संसार में कुछ कठिनाइयां हैं जो तुम्हें सहन करनी हैं। वे पूर्व कर्मों के फलस्वरूप तुम्हें अजेय प्रतीत… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat05

Hariye Na Himmat- Day 05- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 05 हँसते रहो, मुस्कुराते रहो उठो! जागो!! रूको मत!!! जब तक की लक्ष्य न प्राप्त हो जाए। कोई दूसरा हमारे प्रति बुराई करे या निंदा करे, उद्वेगजनक बात… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat04

Hariye Na Himmat- Day 04- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 04 जीवन को यज्ञमय बनाओ मन में सबके लिए सद्भावनाऐं रखना, संयमपूर्ण सच्चरित्रता के साथ समय व्यतीय करना, दूसरों की भलाई बन सके उसके लिए प्रयत्नशील रहना, वाणी… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat03

Hariye Na Himmat- Day 03- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 03 अन्तरात्मा का सहारा पकड़ो यदि तुम शांति, सामथ्र्य और शक्ति चाहते हो तो अपनी अन्तरात्मा का सहारा पकड़ो। तुम सारे संसार को धोखा दे सकते हो किन्तु… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat02

Hariye Na Himmat- Day 02- Aaj Ka Vichar

दिनांक : 02 मानवमात्र को प्रेम करो हम जिस भारतीय संस्कृति, भारतीय विचारधारा का प्रचार करना चाहते हैं, उससे आपके समस्त कष्टों का निवारण हो सकता है। राजनीतिक शक्ति द्वारा… Read more »

Featured post
HariyeNaHimmat01

Hariye Na Himmat- Day 01-Aaj Ka Vichar

नित्य पढ़ें दूसरों के छिद्र देखने से पहले अपने छिद्रों को टटोलो। किसी और की बुराई से पहले यह देख लो कि हममें तो कोई बुराई नहीं है। यदि हो… Read more »